एंड्रॉयड क्या है – What is Android in Hindi

0
What is Android in Hindi

What is Android in Hindi

एंड्रॉयड क्या है

एंड्राइड एक ऐसा ऑपरेटिंग सिस्टम है वह इसलिए डिजाइन किया गया था जैसे मोबाइल को नजर में रखते हुए,  इसमें हमें जो भी चीज दिखाई देता है इसमें फोन की सारी फंक्शन और एप्लीकेशन जो हम आसानी से चला पाते है.और मोबाइल की डिस्प्ले में हमें जो कुछ भी दिखाई देता हैं वह सभी एंड्राइड ऑपरेटिंग का ही सिस्टम का ही हिस्सा है। Android मोबाइल्स आज के समय में पुरे विश्व में   उपलब्ध है Android ने बहुत ही कम समय में खुद को सुधार कर पूरी दुनिया में खुद को एक नया मोबाइल्स का जाल या कह सस्कते है प्लेटफ़ॉर्म बना लिया है। वैसे तो बहुत लोगो को एंड्राइड     (Android) के बारे में पता ही होगा। इसके फायदे क्या है वह भी जानते होंगे लेकिन वह लोग जो की एंड्राइड Android की दुनिया में बिलकुल नए हैं। इसके बारे में कोई भी जानकारी नहीं है. तो फिर आज हम आपको एंड्रॉयड के बारे में बताएंगे. तो लेख को पूरा पढ़े इसमें आपको पूरी जानकारी मिलने वाली है।

  • एंड्रॉयड क्या है  [ एंड्रॉयड के बारे में और पढ़े.]

       इसे हम 5 तरह से कवर करेंगे ?

  1. एंड्रॉयड क्या है?
  2. एंड्राइड का इतिहास
  3. एंड्राइड पर कौन सा ऑपरेटिंग सिस्टम है?
  4. ऑपरेटिंग सिस्टम में डिजाइन मुद्दे क्या है?
  5. नया ऑपरेटिंग सिस्टम कौन सा है?

  एंड्रॉयड क्या है

  • भाई आप सभी लोग जैसा की जानते है एंड्राइड ना तो कोई फोन है ना कोई एप्लीकेशन या एक ऑपरेटिंग सिस्टम operating system है. जो कि linux kernel के ऊपर आधृत है यदि हम इसे आसान भाषा में कहें तो linux kernel ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसके server और desktop computer में उपभोग होता है एंड्राइड वर्जन है जिससे कि बहुत सारे modification बनाया गया है एंड्राइड एक ऐसा ऑपरेटिंग सिस्टम है वह इसलिए डिजाइन किया गया था जैसे मोबाइल को नजर में रखते हुए,  इसमें हमें जो भी चीज दिखाई देता है इसमें फोन की सारी फंक्शन और एप्लीकेशन जो हम आसानी से चला पाते है.और मोबाइल की डिस्प्ले में हमें जो कुछ भी दिखाई देता हैं वह सभी एंड्राइड ऑपरेटिंग का ही सिस्टम का ही हिस्सा है।
  • Android एक ऐसा Operating System है जिसे की design किया गया था Mobile को नज़र में रखते हुए. जब भी आपको कॉल या मैसेज करते हैं, तो आपका OS उसे प्रोसेस करता है और आपके सामने readable format में उसे पेश करता है. और एंड्रॉयड ओएस OS को बहुत सारे वर्जन में विभाजित (अलग-अलग) किया गया है जिसे अलग-अलग नंबर दिए गए हैं इनके फीचर ऑपरेशन स्टेबिलिटी eature operation stability के हिसाब से इन्हें अलग-अलग नंबर दिए गए हैं आप जो कुछ भी phone के display में देखते हैं वो सारे operating system के ही भाग हैं. जब भी आप कोई call, text message या email दिखाई देता तब आपकी OS उसे process करती हैं और आपके सामने readable format में पेश करती है। अगर आपने कभी ऐसा सुना होगा कि जैसे Android Lollipop, Marshmallow or Nouga,तब मैं आपको बता दूं कि यह सारे एंड्राइड वर्जन है.

   एंड्राइड का इतिहास-

  • ज्यादातर लोगो को लगता है की एंड्राइड को गूगल ने ही बनाया है लेकिन यह सही नहीं है. Android Inc की स्थापना अक्टूबर 2003 पालो अल्टो में Rich Miner, Andy Rubin, Nick Sears तथा Crish White ने मिलकर की थी.
  • संयुक्त राज्य अमेरिका के रहने वाले Andy Rubin तथा Rich Miner के द्वारा 2003 में Android Operating System को बनाया था.
  • इन्होंने Android Inc कंपनी को इस लक्ष्य के साथ बनाया था कि Digital Camera के लिए एक Advance Operating System प्रस्तुत कर सकें.
  • Google को एंड्राइड का Concept बहुत स्वीकृति आया और फिर साल 2005 में गूगल में एंड्राइड को लगभग 50$ मिलियन डॉलर देकर खरीद लिया और एंड्राइड की स्थापना करने वाले Rich Miner, Andy Rubin, Nick Sears और Crish White सभी को गूगल कंपनी में Android का हेड घोषीत कर दिया गया.
  • नवम्बर 2007 में Open Handset Alliance द्वारा HTC, मोटरोला, सैमसंग जैसे मोबाइल में एंड्राइड का इस्तेमाल होने लगा. एंड्राइड का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान था और साथ में ही यह समझने में भी आसान था इसलिए धीरे – धीरे लगभग सभी Smartphone में एंड्राइड का इस्तेमाल होने लगा.
  • गूगल एंड्राइड को समय – समय पर Update करते रहता है और एंड्राइड के नए – नए Version को फ्लोटेड (update) करते रहता है. एंड्राइड के सभी Version में गूगल कुछ न कुछ संसोधन करता है और नए Feature के साथ एंड्राइड के नए Version को फ्लोटेड करता है.
  • March 2013 को Andy Rubin ने company को छोड़ने का फैसला किया और अपने दुसरे project में काम करने को सही समझा. लेकिन इसके बाद भी Android की स्तिथि में कोई उतार चड़ाव देखने को नहीं मिला और Andy Rubin के खाली स्थान को Sundar Pichai द्वारा पूर्ति कर दिया गया. Sundar Pichai जो की भारत के रहने वाले हैं इससे पहले वो Chrome OS के head हुआ करते थे और उनकी expertise और experience को Google ने अच्छा इस्तमाल किया इस नए Project में।
  • दोस्तों आज दुनिया में प्राय सभी Mobile Phones में इस्तमाल किया जाता है. केवल Apple’s iPhones को छोड़कर. Android एक Linux-based software system है. जैसे की Linux एक Open Source software है और इसके साथ ये बिलकुल Free भी है. इसका मतलब ये है की दुसरे Mobile Company भी Android Operating Systems का इस्तमाल कर सकते हैं. इसमें जो distinguishing factor हैं वो है की इस Brand की kernel. Android के Central Core को host करता है जो की essentially एक strip code है और जो की Software को operate होने में मदद करता है।

एंड्राइड के भिन्नता (Versions of Android)

हमने निचे Android Operating System के अलग अलग Version के बारे में विवरण कर दिया गया है. अर्थार्थ यह वह version हैं जिन्हें की Android ने अब तक बहुत इस्तमाल पिछले कुछ सालों से किये हैं और अभी भी कर रहे हैं। नीचे सारणी के माध्यम से बताया गया है, इससे आप आसानी से समझ पाएंगे.

  • Android 1.1 Beta
  • Android 1.5 Cupcake
  • Android 1.6 Donut
  • Android 2.1 Eclair
  • Android 2.3 Froyo
  • Android 2.3 Gingerbread
  • Android 3.2 Honeycomb
  • Android 4.0 Ice Cream Sandwich
  • Android 4.1 Jelly Bean
  • Android 4.2 Jelly Bean
  • Android 4.3 Jelly Bean
  • Android 4.4 KitKat
  • Android 5.0 Lollipop
  • Android 5.1 Lollipop
  • Android 6.0 Marshmallow
  • Android 7.0 Nougat
  • Android 7.1 Nougat
  • Android 8.0 Oreo
  • Android 8.1 Oreo
  • Android 9.0 Pie
  • Android 10

एंड्राइड की विशेषताएं हिंदी में 

  • एंड्राइड लिनक्स कर्नेल पर स्थापितएक ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसका उपयोग कोई भी फ्री में कर सकता है.
  • एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम का यूजर इंटरफेस प्रचुर ही सरल है कोई भजी व्यक्ति इसका उपयोग बहुत आसानी से कर पायेगा.
  • एंड्राइड एक मल्टी टास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम है. स्वयं एक साथ इसमें अनेक कामकाज कर सकते हैं. जैसे आप इंटरनेट चलाने के साथ – साथ गीत भी सुन सकते हैं.
  • एंड्राइड अलग भाषाओं को मदद करता है, आप अपनी मनोवांछित भाषा में एंड्राइड का उपयोग कर सकते हैं.
  • एंड्राइड एक मल्टी टच ऑपरेटिंग सिस्टम है अर्थार्थ आप दो अँगुलियों से भी अपने मोबाइल में कुछ निजी काम कर सकते हैं. एंड्रॉइड टच स्क्रीन डिवाइस में अच्छी तरह कार्य करता है.
  • एंड्राइड में कनेक्टिविटी के रूप में यदि आपके निकट पास वाईफाई, ब्लूटूथ, 3G/4G, जीएसएम आदि उपलब्ध हैं.
  • एंड्राइड गूगल का एक रचना है इसलिए Google समय – समय पर एंड्राइड को संस्करण करते रहता है जिससे कि एंड्राइड के नए Version में बचाव भी अधिक होती है.
  • Storage (स्टोरेज) – यह data को स्टोर और मैनेज करने के लिए एक एप्लीकेशन देना देता है. जिसकी मदद से हम डाटा को आराम से स्टोर और मैनेज कर सकते हैं. यह हमारे लिए बहुत आसान बना देता है।
  • Applications (एप्लीकेशन) – Android में आप अपनी मन पसंद applications को (स्थापित करना) install कर सकते है।
  • Multi Tasking (मल्टी-टास्किंग)– एंड्राइड में हम एक बहुत सारें कार्य कर सकते हैं.
  • यह web applications और video calling को भी सपोर्ट करता है। ओर यह ओर ज्यादा बढ़ावा देता हु।

Android -एंड्रॉयड की विशेषताएं ओर अधिक आगे पढे

     1 Security updates (सुरक्षा अद्यतन)

  • गूगल समय-समय पर OTA Updates के माध्यम से यूजर्स को Bug Fixe और Android Security Update प्रदान करता रहता है।
  • एंड्राइड का (Operating System) बहुत ही आसान है ओर इसका User Interface कोई भी व्यक्ति एंड्राइड के द्वारा इसका प्रयोग बहुत आसानी से कर सकता है.
  • एंड्राइड एक ( मल्टी टच ऑपरेटिंग सिस्टम ) Multi Touch Operating System है जिसे आप अपने दो अँगुलियों से भी अपने मोबाइल में कुछ भी अन्य काम कर पाते है। यह डिवाइस टच स्क्रीन में बहुत अच्छी तरह कार्य करता है. ओर इसे आप बहुत आसानी से समझ भी सकते है
  • जैसे सब कंप्यूटर में अधिक विंडोज OS का प्रयोग किया जाता है. अतः उसी तरह मोबाइल में सबसे अधिक Android OS का पयोग किया जाता है.
  • एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम एक फ्री और (open operating system) ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम होने के वजह से इसका सोर्स कोड (source code) कोई भी आसानी से देख सकता है.

एंड्राइड OS विकास एंड्राइड बीटा से पाई तक की सफ़र (Android OS Development Journey from Android Beta to Pie )

  • तो भाई लोग आप सभी लोग एंड्रॉयड फोन (Android Phones) का उपयोग कर रहे होंगे ओर इसके अलावा टैबलेट (Tablets) का भी उपयोग कर ही रहे होंगे जिसमें के एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम (Android Operating System) का उपयोग होता लेकिन आप यह भी जान लीजिए की Android का development Google और Open Handset Alliance के द्वारा किया गया था।
  • अतः इसके बाद Android अन्य ओर अपना नया नया versions November 2007 से release करता आ रहा है. ओर यह एक ख़ास interesting बात ये है की Android Versions को एक ख़ास code name दिया जाता है और Alphabetic order में release किया जाता है. ये काम सन 2009 April से किया जा रहा है।
  • अतः इसके अलावा इसके कुछ नाम भी है. ओर वह कुछ इस तरह है. जैसे की Gingerbread, Nougat, Jelly Bean, Éclair, Lollipop,  Marshmallow, Honeycomb, Ice cream sandwich, KitKat, Froyo, Donut, Oreo दूसरा Pie. नाम देखकर आपको इसका पता चल जाएगा की पूरी ये दुनियाभर के मिठाई (desserts) के नाम पर ही रखा गया है।

हमे उम्मीद है की आपको हामारे द्वारा लिखा गया लेख पसंद आया होगा तो आप इसे आगे से आगे ज्यादा शेयर करेंगे ओर इसी तरह के आर्टिकल को पाने के लिए नोटिफिकेसन हो ऑन जरूर करे

लोग यह भी पूछते है

गर्मियों में ठंडा पानी पीने से आ सकता है हार्ट अटैक

10 kamaal ki website 

विश्व का सबसे महंगा कार कौन है?

मुझे खुशी होगी कि आपको मेरा लेख पसंद आया। अगर आपको किसी अन्य विषय पर जानकारी चाहिए या कोई अन्य प्रश्न हो, तो कृपया पूछें। HOSTGYAN TEAM आपकी सहायता करने के लिए तैयार है।

ज्यादा जानकारी के लिए चेनल पर जाए।

यहा तक आने के लिए धन्यवाद आपका दिन सुभ हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *